" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

मैंने कभी हिंसा की वकालत नहीं की: अन्‍ना

भ्रष्टाचार के लिए थप्पड़ संबंधी टिप्पणी को लेकर विवादों में घिरे अन्ना हजारे ने इससे अपने को अलग करने का प्रयास करते हुए कहा कि उन्होंने कभी भी हिंसा की वकालत नहीं की और आरोप लगाया कि राजनेताओं का एक वर्ग उन्हें बड़े अपराधी के रूप में पेश करने का षडयंत्र कर रहा है.

हजारे ने अपने ताजा ब्लाग में कहा कि वह कई वर्षों से भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष कर रहे हैं लेकिन उन्होंने कभी भी मारपीट करने की बात नहीं की.

उन्होंने कहा कि लेकिन मेरे साथ कई बार इसे (किसी के साथ मारपीट) जोड़ा गया. अब मेरी बात सुने या समझे बिना मुझे बड़े अपराधी के रूप में पेश किया जा रहा है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है. उनका यह बयान फिल्म ‘गली गली चोर है’ देखने के बाद की गयी उनकी कथित टिप्पणी पर पैदा विवाद के बाद आया है.

मजबूत लोकपाल विधेयक के लिए आंदोलन का जिक्र करते हुए 74 वर्षीय हजारे ने कहा कि उन्होंने कभी भी हिंसा की भाषा का इस्तेमाल नहीं किया और उनके सभी आंदोलन अहिंसक रहे हैं




SEND THIS POST TO YOUR FACEBOOK FRIENDS/GROUPS/PAGES
" "