" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

पद्मसिंह पाटिल (एनसीपी नेता) ने दी मेरे नाम की सुपारीः अन्ना हजारे


पद्मसिंह पाटिल, एनसीपी नेता, अन्‍ना हजारे, सुपारी, जान को खतरा, पद्मसिंह पाटिल, एनसीपी नेता, अन्‍ना हजारे, सुपारी, जान को खतरा, पद्मसिंह पाटिल, एनसीपी नेता, अन्‍ना हजारे, सुपारी, जान को खतरा, पद्मसिंह पाटिल, एनसीपी नेता, अन्‍ना हजारे, सुपारी, जान को खतरा, पद्मसिंह पाटिल, एनसीपी नेता, अन्‍ना हजारे, सुपारी, जान को खतरा, पद्मसिंह पाटिल, एनसीपी नेता, अन्‍ना हजारे, सुपारी, जान को खतरा,
यमुनानगर। गांधीवादी समाजसेवी अन्‍ना हजारे की जान को खतरा है और किसी उन्‍हें मारने की सुपारी भी दे डाली है। जी हां इस बात का खुलासा खुद अन्‍ना हजारे ने किया है। अन्‍ना हजारे ने कहा है कि उनकी जान को खतरा है और महाराष्‍ट्र के एक नेता ने उनकी हत्‍या की सुपारी दे डाली है। अन्‍ना ने एनसीपी के नेता पर सुपारी देने का आरोप लगाया है। देशव्‍यापी जनयंत्र यात्रा पर निकले अन्‍ना हजारे ने हरियाणा के यमुनानगर में इस सनसनीखेज बात का खुलासा किया। अन्‍ना हजारे ने कहा कि एनसीपी का एक नेता उनकी जान के पीछे पड़ा है। अन्‍ना हजारे के इस खुलासे के बाद पूरे देश में हड़कंप मच गया है। जनतंत्र यात्रा में जनसैलाब को संबोधित करते हुए अन्‍ना हजारे ने कहा कि एनसीपी नेता पद्मसिंह पाटिल से उनकी जान को खतरा है। 

उन्‍होंने कहा कि मेरे आंदोलनों से कुछ लोगों के मान को धक्का पहुंचता है। अगर जनता की राय लेकर कानून नहीं बनाया जाता है तो अंग्रेजों और मौजूदा सरकारों में कोई फर्क नहीं रह जाएगा। मालूम हो कि इससे पहले भी अन्‍ना हजारे की जान पर खतरे की खबरें आती रहीं हैं। बीते साल अक्‍टूबर में गृहमंत्रालय को उसकी ऐजेंसी ने खबर दी थी कि समाज सेवी अन्ना हजारे की जान को खतरा है। उन्हें सुरक्षा की जरूरत है। अगर वो सुरक्षा मांगेगे तो उन्हें दी जायेगी। मगर उस वक्‍त अन्‍ना हजारे ने सुरक्षा लेने से इंकार कर दिया था। 
\
" "