" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

रामदेव ने मांगा राष्ट्र का समर्थन


हरिद्वार: योगगुरु बाबा रामदेव 3 जुलाई को गुरु पूर्णिमा के अवसर पर राष्ट्र रक्षा हेतु पूरे देश से 25 हजार युवाओं की फौज हरिद्वार में एकत्र करने जा रहे हैं। भारत स्वाभिमान ट्रस्ट के सभी 624 इकाइयों के हजारों कार्यकर्ता इन दिनों इसके लिए सघन जनसम्पर्क अभियान में जुटे हुए हैं। बाबा की योजना युवाओं के जरिए अपने आंदोलन को धार देने की है।

कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे योगगुरु बाबा रामदेव ने जंतर-मंतर पर अन्ना हजारे के साथ धरना देने के बाद आगे के आंदोलन की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। इसके तहत ही भारत स्वाभिमान ट्रस्ट ने 3 जुलाई को गुरु पूर्णिमा के अवसर पर हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में युवाओं को राष्ट्र रक्षा का संकल्प दिलाने की योजना बनाई है। कोशिश है कि इस कार्यक्रम में 25 हजार से अधिक युवा लड़के-लड़कियों को एकत्र किया जाए, उन्हें सरकारी स्तर पर हो रहे भ्रष्टाचार व कालेधन को लेकर जानकारी दी जाए। इसमें ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को विशेष रूप से जोड़ा जा रहा है। उन्हें कृषि के क्षेत्र में विदेशी कंपनियों की घुसपैठ, विदेशी बीजों, खाद और 'कांट्रैक्ट-फार्मिंग' से हो रहे नुकसान के बारे में बताया जाएगा। जिससे कि वे यहां से जाने के बाद अपने आस पास के लोगों को जागरूक कर कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ माहौल बनाने में बाबा की मदद करें। इसके लिए कालेधन और भ्रष्टाचार से जुड़ा साहित्य, सीडी, बैनर और पोस्टर भी तैयार कराए जा रहे हैं। साथ ही अन्य संगठनों से भी मदद मांगी जा रही है। बाबा रामदेव और उनके सहयोगियों की योजना है कि इस बार आंदोलन शुरू हो तो उसमें ठहराव न आने दिया जाए और आंदोलन को चरणबद्ध तरीके से 2014 में प्रस्तावित लोकसभा चुनावों तक चलाया जाए।

इस मामले में भारत स्वाभिमान ट्रस्ट की रोजाना बैठक हो रही है। इसके अलावा ट्रस्ट अपने सलाहकारों से भी लगातार संपर्क बनाए हुए है। शनिवार को बाबा के स्वदेशी शिविर में इस मुद्दे पर चर्चा हुई। इस संदर्भ में ट्रस्ट की रविवार को महत्वपूर्ण बैठक होनी है।

'गुरु पूर्णिमा को स्वामी जी हर वर्ष कार्यक्रम करते हैं। इस वर्ष इसे बड़े और व्यापक पैमाने पर मनाया जा रहा है। युवाओं को विशेष रूप से इसमें जोड़ा जा रहा है। कालेधन और भ्रष्टाचार को लेकर स्वामी जी का आंदोलन में इनकी भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी।'
" "