" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

PMO पर बरसे अन्ना, देशद्रोही हूं तो जेल में डालो

नई दिल्ली। कई दिनों से सरकार के मंत्रियों व टीम अन्ना के बीच चल रहे वाक्युद्ध के दौर में मंगलवार को अन्ना हजारे ने सरकार पर पलटवार करते हुए चुनौती दी है कि वह उन पर और उनके सहयोगियों पर लगाए गए आरोपों को सिद्ध करके दिखाए।


अन्ना हजारे ने संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि दरअसल सरकार की भ्रष्टाचार के खिलाफ कानून बनाने की कोई मंशा नहीं है और इसीलिए जन लोकपाल की ओर से जनता का ध्यान हटाने के लिए वह हम पर आरोप लगाने में व्यस्त है। अन्ना हजारे ने अपने या अपनी टीम के किसी सदस्य के पीछे विदेशी ताकतों का हाथ होने का आरोप भी साफ नकार दिया और चुनौती दी कि सरकार इस आरोप को साबित करके दिखाए। उन्होने साफ पूछा कि सरकार बताए कि वे कौन-सी विदेशी ताकतें हैं।


अन्ना ने ये भी कहा कि सरकार क्या कानून बनाती है वह जनता को पता होना चाहिए। जनता की राय से ही कानून बनने चाहिए। वही असली लोकशाही है। नारायणसामी के आरोपों पर हजारे ने कहा कि वह समझ नहीं पा रहे कि सामी के आरोपों का जवाब किस भाषा में दें। मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के आरोपों परद हजारे ने कहा कि जांच क्यों नहीं कराते।
" "