" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

केजरीवाल की प्रेस कांफ्रेंस में एनी कोहली ने दागे सवाल


इंडिया अगेंस्ट करप्शन (आइएसी) के अरविंद केजरीवाल की प्रेस कांफ्रेंस में रविवार को जोरदार हंगामा हुआ। आइएसी के दफ्तर पर टीम अन्ना की पूर्व सदस्य और सामाजिक कार्यकर्ता एनी कोहली समर्थकों के साथ नारेबाजी करती हुई पहुंचीं। एनी ने केजरीवाल और प्रशांत भूषण के खिलाफ नारेबाजी करके उनके आचरण पर कई गंभीर सवाल दागे।

प्रेस कांफ्रेंस के बीच ही टीम अन्ना की पूर्व सदस्या एनी कोहली अपने समर्थकों के साथ हाथों में बैनर लिए नारे लगाते पहुंच गईं। इस दौरान उन्होंने केजरीवाल, प्रशांत भूषण व शांति भूषण के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए। इतना ही नहीं उन्होंने काफी देर तक इनके खिलाफ नारेबाजी भी की। समर्थक इस बात की मांग कर रहे थे कि अन्ना आंदोलन के समय अरविंद केजरीवाल को जो चंदा मिला उसका हिसाब दिया जाए। उसका अब तक कोई ब्योरा नहीं है। एनी व केजरीवाल के समर्थक आमने-सामने आ गए और दोनों में नोंकझोंक शुरू हो गई। इसे देखकर केजरीवाल प्रेस कांफ्रेंस को बीच में छोड़कर अंदर चले गए। हंगामा देख इंदिरापुरम पुलिस फोर्स पहुंची और केजरीवाल को समझा बुझाकर बाहर लाई। केजरीवाल के आते ही एनी कोहली ने एक के बाद एक सवाल शुरू कर दिए। हंगामा और शोर होने के कारण केजरीवाल कुछ समझा नहीं पा रहे थे। एनी कोहली ने केजरीवाल से पूछा कि बलिदान से क्यों डर गए और राजनीति में उतरना उनकी शुरू से ही तो महत्वकांक्षा नहीं थी। क्या आप उदारवादी हैं..?। फिर कोहली ने केजरीवाल से कहा कि वह अपनी स्थिति देश के सामने स्पष्ट करे? इस शोर-शराबे के बीच केजरीवाल ने सिर्फ इतना कहा कि चुनाव लड़ना गलत नहीं है और जो लड़ाई वह भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे हैं, वह किसी सूरत में बंद नहीं होगी। इतना कह कर केजरीवाल तेज कदमों के साथ आइएसी दफ्तर के अंदर चले गए। अंदर जाते हुए केजरीवाल ने मीडिया को इतना जवाब दिया कि कोहली का सवाल समझ में नहीं आया, अगर आता जो जवाब देता। वह कोहली को नहीं जानते है। इसके बाद एना कोहली ने मीडिया से कहा कि केजरीवाल अन्ना के साथ धोखा कर चुके है। अब वे देश के साथ धोखा कर रहे हैं। अगर सब कुछ सही होता तो अन्ना क्यों टीम भंग करते। केजरीवाल को सवालों का जवाब देना होगा।

इसदौरान दोनों के समर्थकों ने हंगामा किया। हंगामे के बीच भारी पुलिस बल भी मौजूद था। वहीं एनी के साथ भाजपा के कुछ पूर्व कार्यकर्ताओं के होने को लेकर आइएसी के कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी की।

" "