" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

कांग्रेस-बीजेपी रिलायंस की मुट्ठी में : केजरीवाल



kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance kejriwal reliance

Kejriwal speaking on government relations with reliance

सोशल ऐक्टिविस्ट से नेता बने अरविंद केजरीवाल आज उद्योगपति मुकेश अंबानी और बीजेपी-कांग्रेस के रिश्तों पर बड़ा खुलासा किया। केजरीवाल ने 'रिलायंस को मुकेश अंबानी की दुकान' बताते हुए दावा किया कि सरकार ने रिलायंस को 45 हजार करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया। केजरीवाल की दिल्ली के कंस्टिट्यूशन क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस जारी है। क्या-क्या खुलासे कर रहे हैं केजरीवाल आइए आपको बताते हैं...

कांग्रेस-बीजेपी रिलायंस की मुट्ठी में
केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत में नीरा राडिया और अटल बिहारी वाजपेयी के दामाद रंजन भट्टाचार्य की बातचीत के दो ऑडियो क्लिप सुनाए और दावा किया कि किस तरह कांग्रेस और बीजेपी रिलायंस की मुट्ठी में हैं। केजरीवाल ने कहा कि इस देश को मनमोहन सिंह नहीं मुकेश अंबानी चला रहे हैं।


रिलायंस ने करवाई जयपाल रेड्डी की छुट्टी
केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने रिलायंस को फायदा पहुंचाया। पेट्रोलियम मंत्री जयपाल रेड्डी ने जब रिलायंस का विरोध किया तो उनकी छुट्टी कर दी गई। उन्होंने कहा कि रिलायंस की दादागिरी से गैस आधारित कई प्लांट बंद हुए।

मुरली देवड़ा रिलायंस के आदमी
केजरीवाल के मुताबिक मुरली देवड़ा रिलायंस के आदमी हैं। केजरीवाल ने दावा किया कि मुरली देवड़ा ने रिलायंस को 1 लाख करोड़ रुपये का फायदा पहुंचाया।

केजरीवाल के मुताबिक रिलायंस ब्लैकमेलिंग के लिए गैस का कम उत्पादन करती है।

प्रणब मुखर्जी ने NTPC को रिलायंस की गैस सवा 14 डॉलर में खरीदने के लिए मजबूर किया।

रिलायंस सवा 14 डॉलर में गैस खरीदने के लिए सरकार को ब्लैकमेल कर रही है। ऐसा हुआ तो बिजली के रेट बढ़ जाएंगे। 

रिलायंस पर सख्ती की वजह से मणिशंकर अय्यर की कुर्सी भी गई 

रिलायंस की मनमानी से देश को 45 हजार करोड़ का नुकसान हुआ

यूपीए ही नहीं एनडीए सरकार ने भी रिलायंस को फायदा पहुंचाया

केजरीवाल की मांग
केजी बेसिन में रिलायंस का ठेका रद्द किया जाए
रिलायंस की सीएजी से जांच करवाई जाए

गौरतलब है कि केजरीवाल इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा और बीजेपी अध्यक्ष नितिन गडकरी को लेकर खुलासे कर चुके हैं। केजरीवाल ने सावधानी बरतते हुए अपने इस खुलासे पर आखिरी समय तक सस्पेंस बनाए रखा। इंडिया अगेंस्ट करप्शन के बैनर तले अभी तक महाराष्ट्र सिंचाई घोटाला, रॉबर्ट वाड्रा-डीएलएफ डील, केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद और बीजेपी अध्यक्ष नितिन गडकरी को लेकर चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं।


" "