" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

"पाक की नापाक हरकत"


नई दिल्ली : भारतीयों के विवादास्पद बयान आतंकी सरगना हाफिज सईद को खासे रास आ रहे हैं। वह इन बयानों के आधार पर भारत की हंसी उड़ाने और दुष्प्रचार करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहा है। भाजपा-संघ की ओर से हिंदू आतंकवाद को बढ़ावा देने संबंधी गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे के बयान पर भारत पर तंज कसने के बाद इस आतंकी सरगना ने कहा है कि अगर शाहरुख खुद को भारत में सुरक्षित महसूस नहीं करते तो वह पाकिस्तान में रहने आ सकते हैं।

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड और जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद ने शाहरुख को यह न्योता उनके उस बयान के बाद दिया है जिसमें उन्होंने भारत में मुसलमानों की हालत पर अपने विचार व्यक्त किए थे। एक पत्रिका को दिए गए साक्षात्कार में किंग खान ने कहा था कि भारत में मुसलमान होने की कुछ समस्याएं भी हैं। मैं कभी-कभी बेवजह राजनेताओं केनिशाने पर होता हूं, जो उन्हें भारत में मुसलमानों के साथ कुछ भी गलत और राष्ट्र विरोधी होने का प्रतीक बना देते हैं। मुझ पर कई बार आरोप लगे हैं कि मैं अपने देश के बजाय पड़ोसी देश के प्रति अधिक लगाव रखता हूं। शाहरुख ने अमेरिका पर 11 सितंबर, 2001 को हुए हमले के बाद के माहौल में भारत में मुसलमान होने के मुद्दे पर अपने विचार रखे थे।

शाहरुख ने कहा,' ऐसा तब हो रहा है जबकि मैं एक भारतीय हूं और मेरे पिता स्वतंत्रता सेनानी थे।' पाकिस्तानी अखबार द एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक, सईद ने शाहरुख को पाकिस्तान में पूरी सुरक्षा और सम्मान दिए जाने का भी भरोसा दिलाया है। सईद भारत में मोस्ट वांटेड आतंकवादियों की सूची में शामिल है।

सईद ने शाहरुख को ट्विटर ट्रेंड में टॉप पर पहुंचाया:-

मुंबई। आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैय्यबा के संस्थापक व मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद ने शाहरुख खान के प्रति अपना प्यार जताकर शाहरुख को ट्विटर ट्रेंड में टॉप पर पहुंचा दिया है। देश भर में आज सबसे ज्यादा चर्चा शाहरुख को लेकर हो रही है। इस चर्चा में कई लोग शाहरुख के समर्थन में हैं, तो कई शाहरुख को खरी-खोटी सुना रहे हैं।

सबसे पहले हम आपको बताते हैं कि हाफिज सईद ने क्या कहा। सईद ने कहा, शाहरुख खान अगर भारत में असुरक्षित महसूस कर रहे हों तो पाकिस्तान आ सकते हैं। यहां उनका बहुत सम्मान होगा। इस बयान के बाद से मानों हंगामा खड़ा हो गया है, हालांकि शाहरुख की तरफ से अभी तक कोई टिप्पणी नहीं आई है।

क्या चल रहा है ट्विटर पर:---

-भातरीयों ने हमेशा शाहरुख खान को एक ऐक्टर की तरह सराहा है, लेकिन उन्होंने हमेशा अपना मुस्लिम कार्ड खेलने के प्रयास किये।

सदानंद ढूमे

-शाहरुख ने 2009 में कहा था, मुझे मेरे धर्म की वजह से अलग तरह से कभी ट्रीट नहीं किया गया।

ग्रेट बांग

-अमिताभ बच्चन भी सफल अभिनेता हैं, क्योंकि वो एक महान कलाकार हैं। अगर शाहरुख खान सफल हैं तो वो अपनी सांप्रदायिक सोच की वजह से। क्या यह बात सही है? जब शाहरुख को सफलता मिलती है, तो हम उसका क्रेडिट ले लेते हैं, जब उनक पर ऐसे आरोप लगते हैं हम उन्हें ब्लेम करते हैं।

सोनाली रनाडे

-कुछ खराब लोगों से मैं कहना चाहता हूं कि वो यह जान लें कि हम न केवल शाहरुख को बहुत प्रेम करते हैं, बल्कि उनकी पूजा करते हैं। कृपया उनके खिलाफ ऐसे कोई शब्द इस्तेमाल नहीं करें।

सुपर स्टार एसआरके

-ट्विटर पर संघी आतंकवाद। किरोरी लाल मीना और पतंजली शोषण केस पर कोई हंगामा नहीं। शाहरुख के एक बयान पर इतना हंगामा?

हालावाडी

-हम भारतीय सिर्फ इतना जानते हैं कि हम शाहरुख को सिर्फ उनकी ऐक्टिंग की वजह से चाहते हैं, धर्म की वजह से नहीं।

सिद्धार्थ जैन

- चुप रहो? और ये हाफिज सईद कौन होता है शाहरुख पर कमेंट करने वाला कि वो कहां रहें।

ट्विंकलिंग टीना

-शाहरुख खान हों, शाहरुख शास्त्री या फिर शाहरुख सिंह हैं तो भारतीय ही।

अखिल

-दि किंग्स क्लब ने तो ट्विटर पर एक तस्वीर डालकर अभियान चला दिया है कि इस व्यक्ति को सम्मान करो। उनकी इंसल्ट नहीं। इसमें चक दे इंडिया की तस्वीर लगायी है।

" "