" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

दामिनी के पिता ने आसाराम को कहा शैतान


नई दिल्ली। दिल्‍ली गैंग रेप की शिकार 'दामिनी' को गैंग रेप की घटना के लिए बराबर का जिम्मेदार ठहराकर विवादों में घिरे आसाराम बापू के खिलाफ मंगलवार को भी हमले जारी रहे। 'दामिनी' (पढि़ए, उसकी आपबीती) के पिता ने आसाराम बापू को 'निराशाराम बापू' कहा है। दामिनी के पिता ने आसाराम बापू पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसे बयान से साफ़ है कि आसाराम बापू संत नहीं बल्कि संत का चोला ओढे शैतान हैं जिन्‍हें लोक कल्याण की कोई परवाह नहीं है। ('संत' आसाराम और आठ विवाद)

अपनी बेटी खोने के गम में डूबे दामिनी के पिता ने कहा कि पहले से ही आसाराम बापू के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चल रहा है और अब मेरी बेटी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने के लिए मैं उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की पुरजोर मांग करता हूं। वहीं दामिनी के भाई ने कहा कि उनका परिवार आसाराम बापू का सम्मान करता था लेकिन उनके इस बयान के बाद वो उनकी किताबों को जला देंगे। 

वहीं मंगलवार को आसाराम बापू के तेवर थोड़े नरम हो गए। दिल्ली गैंगरेप पीड़िता पर दिए बयान पर हुए विवाद के बाद जब उनसे प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा कि जो मैं पहले कह चुका हूं उस पर कोई टिप्पणी करके मैं नए विवाद को जन्म नहीं देना चाहता। मैं तो सिर्फ  सबका भला चाहता हूं। इससे पहले मीडिया का उपहास उड़ाते हुए आसाराम ने कहा, 'पहले एक कुत्ता भौंका, फिर दूसरा और फिर आस पड़ोस के कुत्ते भी भौंकने लगे। लेकिन क्या कुत्तों के भौंकने से हाथी उनके पीछा भागता है, ऐसे करने से हाथी की ही महत्ता कम होती है।'

समाजवादी पार्टी नेता अबु आसिम आजमी भी गैंगरेप के मामले में संघ प्रमुख मोहन भागवत के सुर में बोले हैं। उन्होंने कहा, 'मैं मानता हूं कि मॉडर्न लोग, जो भारतवर्ष की जगह इंडिया शब्द का इस्तेमाल करते हैं, जिनके यहां गर्लफ्रेंड बनाना गलत नहीं है वही लोग ऐसी वारदातों के लिए जिम्मेदार होते हैं। गांव के भारत का कल्चर जब होगा तब इस तरह के मामले कम हो जाएंगे। मैं मानता हूं कि फिल्मों में बढ़ रही नग्नता और महिलओं के प्रति हिंसा भी ऐसे घटनाओं का एक अहम कारण है। फूहड़ता, फैशन और नग्नता ही महिलाओं के प्रति हिंसा को जन्म देती है। ऐसे कानून की भी जरूरत है जो कुंवारी महिलाओं को पुरुषों के साथ खुले घूमने से रोके।' आजमी ने यह भी कहा कि सेंसर बोर्ड को गांवों की संवेदनशीलता का भी ध्यान रखना चाहिए और इसमें ऐसे लोग भी होने चाहिए जो गांवों की संस्कृति को समझें। 

अबु आजमी ने रेप के मामले में फांसी की सजा का भी विरोध किया। उन्होंने कहा, 'रेप के मामलों में मौत की सजा के प्रावधान का बेतहाशा गलत इस्तेमाल किया जाएगा। कोई भी नया कानून इस बात को भी ध्यान में रखकर बनाया जाना चाहिए।' 

इससे पहले आसाराम बापू ने राजस्‍थान के टोंक में अपने प्रवचन में दामिनी को घटना के लिए बराबर का जिम्मेदार ठहराया था और कहा था कि उसको उन युवकों और लड़कों को धर्म भाई बनाकर घटना को होने से रोकना चाहिए था।

वहीं अपनी बेटी के गैंग रेप केस के दो आरोपियों द्वारा सरकारी गवाह बनने की बात पर दामिनी के पिता ने कहा कि उस काण्ड में गवाह कई हैं, पर इन दोनों को भी अन्य आरोपियों की तरह कठोर से कठोर सज़ा मिलनी चाहिए जो सिर्फ फांसी ही हो सकती है।

आइटम गर्ल राखी सावंत ने भी आसाराम पर अपनी भड़ास निकाली है। राखी ने कहा, 'खुद बाबा के आश्रम में सबसे ज्यादा महिलाएं रहती हैं। क्या बापू उन्हें भी यही सलाह देंगे? लगता है कि आसाराम बापू की बुद्धि भ्रष्ट हो गई है। ज्यादा सर्दी लगने से उनके दिमाग का पारा गिर गया है।' राखी ने कहा कि बाबा खुद बताएं कि जब उनके आश्रम में बच्चों के साथ हुई गलत हरकतों की बात आई, तब उन्होंने क्यों नहीं कहा था कि ताली दो हाथ से बजती है।

" "