" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

किले में तब्दील हुआ दिल्ली का दिल, जनाक्रोश से डरी सरकार

delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors delhi gang rape protestors

delhi gang rape protestors

दिल्ली के दिल ने सोमवार को तब एक किले की शक्ल ले ली जब इंडिया गेट और रायसीना हिल के आसपास के इलाकों पर प्रदर्शनों को रोकने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया। इंडिया गेट, रायसीना हिल और अन्य स्थानों पर भी मीडियाकर्मियों को जाने से रोका गया।

दिल्ली गैंगरेप प्रदर्शन का ताजा हाल :
*पुलिस की सख्ती के चलते प्रदर्शनकारी अब जंतर मंतर पर इकट्ठा होने लगे हैं। हालांकि सड़कों पर भारी जाम लगा हुआ है। लोगों को मेट्रो स्टेशन बंद होने के कारण भारी दिक्कतों का समना करना पड़ रहा है।

*दिल्ली गैंगरेप के खिलाफ राजधानी दिल्ली में युवाओं ने रविवार को जबरदस्त विरोध का सुर बुलंद किया, लेकिन सोमवार सुबह इंडिया गेट पर किसी भी तरह का प्रदर्शन देखने को नहीं मिला। पुलिस ने आज सुबह धारा 144 के प्रति लोगों को सजग किया और उन्हें इंडिया गेट की ओर आने से मना किया।

*गैंगरेप मामले में केंद्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने सभी डीजीपी की 1 जनवरी को बैठक बुलाई है। बैठक में वे अब तक हुई कार्रवाई की जानकारी लेंगे। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण आंदोलन सही है। हिंसा रोकने के लिए कार्रवाई हुई और मैंने प्रदर्शनकारियों को माओवादी नहीं कहा। हम गैंगरेप केस में तेजी से कार्रवाई कर रहे हैं। गैंगरेप मामले में उन्होंने कहा कि हमने सजा को बढ़ाने के लिए एक न्यायिक कमेटी बनाई है। 30 दिन में न्यायिक कमेटी की रिपोर्ट पेश होगी। 

*दिल्ली के उपराज्यपाल ने तीन बैठकें बुलाईं। राज्यपाल अपराह्न 4 बजे दिल्ली पुलिस, छात्र संगठन और राष्ट्रीय महिला आयोग के साथ बैठक लेंगे। 

*न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन ने मीडियाकर्मियों के साथ हुई दिल्ली पुलिस की बदसलूकी पर सख्त एतराज जताया है। 

*प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोमवार को राष्ट्र के नाम संबोधित करते हुए कहा कि सरकार सामूहिक बलात्कार मामले में प्रतिक्रिया में विलंब तथा महिलाओं की सुरक्षा से जुड़े सभी पहलुओं पर गौर करेगी। उन्होंने लोगों से हिंसा से दूर रहने और शांति बनाए रखने का आग्रह किया।

*आज रोज सफर करने वाले यात्रियों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। दफ्तर जाने वाले कर्मचारियों और कॉलेज जाने वाले छात्र-छात्राओं को भी सड़क मार्गों के बंद होने और 9 मेट्रो स्टेशनों के बंद होने के कारण परेशानी झेलनी पड़ी।

*पिछले दो-तीन दिन में हुए घटनाक्रम को देखते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बैठक अब प्रधानमंत्री के रेसकोर्स स्थित आवास पर होगी। आमतौर पर ऐसी बैठकें हैदराबाद हाउस में होती हैं, जो इन प्रदर्शनों का मुख्यस्थल बने इंडिया गेट के पास है।

*राजीव चौक समेत 9 मेट्रो स्टेशनों को बंद किए जाने की घोषणा मध्यरात्रि में होने के कारण काफी लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं हुई और सुबह वे सुरक्षाकर्मियों से बहस करते हुए देखे गए। कल भी राजीव चौक के अलावा 8 मेट्रो स्टेशनों को बंद रखा गया था, पर रविवार का दिन होने के कारण इसका प्रभाव देखने को नहीं मिला था। सप्ताह के पहले दिन दफ्तरों के खुलने के कारण सैकड़ोंयात्री जगह-जगह फंसे देखे गए।

*कुछ ऑटो चालकों ने इसका पूरा लाभ उठाया और अधिक किराया मांगने लगे। कनॉट प्लेस पर एक कंपनी में काम करने वाले संजय सूरी ने बताया कि मुझे उद्योग भवन से जंतर-मंतर आना पड़ा, क्योंकि रफी मार्ग बंद था इसलिए मुझे मदर क्रीसेंट रोड से आना पड़ा। मात्र 5-6 किलोमीटर के इस सफर के लिए मुझे 200 रुपए खर्च करने पड़े... यही सफर मैं 40 रुपए में तय करता हूं।

मेट्रो स्टेशन बंद : इंडिया गेट के नजदीक लगातार हो रहे प्रदर्शनों के चलते मध्य दिल्ली के 9 मेट्रो स्टेशन आज सोमवार को बंद रहेंगे। प्रगति मैदान, मंडी हाउस, पटेल चौक, केन्द्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, खान मार्केट, रेस कोर्स, राजीव चौक और बाराखंभा मेट्रो स्टेशन बंद रहेंगे।

इन स्टेशनों को दिल्ली पुलिस के निर्देश के बाद बंद रखा गया है। डीएमआरसी अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली पुलिस से अगला आदेश मिलने तक इन स्टेशनों को बंद रखा जाएगा। हालांकि केंद्रीय सचिवालय स्टेशन पर मेट्रो की अदला-बदली की जा सकती है।

रास्ते भी बंद : इंडिया गेट से मीडिया को भी हटा दिया गया और उन्हें प्रगति मैदान जाने के लिए कहा गया है। इंडिया गेट समेत नई दिल्ली एरिया की कई सड़कें पर दिनभर ट्रैफिक बंद रहेगा। सरकारी सूत्रों का कहना है कि ये कदम एहतियातन उठा गए हैं ताकि रूसी राष्ट्रपति की यात्रा के दौरान किसी तरह की गड़बड़ी न हो।

दिल्ली पुलिस ने सुबह ही सोशल साइट ट्विटर पर एड्‍वाइजरी जारी करते हुए कहा है कि राजपथ, विजय चौक, रफी मार्ग, जनपथ और मानसिंह रोड जनरल ट्रैफिक के लिए बंद रहेंगे। पुलिस ने लोगों को सलाह दी है कि आज इन रास्तों के जरिए सफर न करें। बताया गया है कि सरदार पटेल मार्ग, रिज रोड, मदर टरेसा क्रीसेंट रोड, आरएमएल चौराहा, मथुरा रोड और राजपथ पर पूर्वी रिंग रोड चालू रहेंगे। मथुरा रोड पर नीले गुंबद निजामुद्दीन से डब्ल्यू पॉइंट तक बसें नहीं चलेंगी। इस रूट पर बसें रिंग रोड पर ही चल पाएंगी।

पुलिस ने रफी मार्ग को भी बंद कर दिया और अशोक रोड, कॉपरनिकस मार्ग पर एक तरफ का मार्ग ही खोला गया। रफी मार्ग और रायसीना हिल पर बैरीकेडिंग के कारण आसपास के दफ्तरों में काम करने वाले लोगों को भी अपने-अपने पहचान पत्र दिखाने पड़े।

पीड़िता की हालत चिंताजनक : सामूहिक बलात्कार की शिकार 23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा का कल रात एक छोटा ऑपरेशन किया गया और उसे फिर से वेंटीलेटर पर रखा गया है। उसकी हालत अब भी गंभीर बनी हुई है।

मेडिकल परीक्षण में पता लगा कि उसके पेट में कुछ तरल पदार्थ जमा हो गया है। सफदरजंग अस्पताल में छात्रा का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने कहा कि पीड़िता के पेट की ‘छोटी’ सर्जरी हुई है और उसे वेंटीलेटर पर रखा गया है। डॉक्टरों के अनुसार उसके प्लेटलेट में उतार-चढ़ाव हो रहा है।

सफदरजंग अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर बीडी अथानी ने संवाददाताओं से कहा कि रात में उसने पेट में दर्द की शिकायत की थी और उसे सांस लेने में भी दिक्कत थी। उन्होंने कहा कि सांस की स्थिति में सुधार हुआ है।

डॉक्टर संक्रमण की आशंका को लेकर चिंतित हैं। डॉक्टर ने कहा कि वह गंभीर हालत में है और आईसीयू में बनी हुई है। हमें अगले कुछ दिन तक उसका खास ख्याल रखना है।

इस छात्रा को शुक्रवार से वेंटीलेटर से हटा दिया गया था, लेकिन कुछ सांस संबंधी समस्याओं के कारण उसे शाम को फिर वेंटीलेटर पर रखा गया। अथानी ने कहा कि हम उसकी सभी तरह की जांच कर रहे हैं। उसकी स्थिति गंभीर बनी हुई है। पीड़िता के परिजनों ने बताया कि चिकित्सकों ने ‘कुछ परेशानी’ के बाद उसे शाम में वेंटीलेटर पर रखा।

रविवार का प्रदर्शन : दिल्ली में तीसरे दिन रविवार को भी जोरदार प्रदर्शन हुआ। इंडिया गेट पर हजारों लोग शाम तक डटे रहे। पुलिस बलों ने जब उन्हें वहां से हटाने का प्रयास किया तो पुलिस से उनकी झड़प हो गई जिसमें लगभग 100 लोग घायल हो गए। 78 पुलिसकर्मियों के घायल होने की खबर है। इस दौरान 250 आंसूगैस के गोले दागे गए और पुलिस की करीब 24 गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई। 

पुलिस ने कई जगह निषेधाज्ञा भी लागू कर दी। प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों ने जमकर लाठियां बरसाईं, पानी की बौछार की और आंसूगैस का उपयोग किया। जब प्रदर्शनकारियों को हटाना चुनौती बन गया तब बल प्रयोग तेज कर दिया गया जिसके जवाब में लोगों ने पुलिस और वाहनों पर पथराव किया, पानी की बोतलें और चप्पलें फेंकी। पथराव में एक पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गया।
" "