" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

केजरीवाल के खुलासे के बाद बयानों का दौर



स्विस बैंकों में कालाधन रखने वालों पर अरविंद केजरीवाल के प्रहार से एक बार फिर देश के खास तब‍के में खलबली मच गई. देखिए अरविंद केजरीवाल के ताजा खुलासों के बाद किसने क्‍या कहा...
कानूनी नोटिस देने पर विचार: अनु टंडन
अनु टंडन ने कहा, ‘मैं अभी अमेरिका से आई हूं. कानूनी नोटिस देने के बारे में मैं अपने बच्चों से राय-मशविरा करूंगी. अनु टंडन ने कहा कि इस मामले में उनके दिवंगत पति को भी घसीटा गया है. अनु टंडन ने अरविंद केजरीवाल द्वारा लगाए गए सारे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है. उन्‍होंने कहा कि इस बारे में कोई भी चर्चा करना वक्‍त की बर्बादी है.

अनु टंडन ने कहा कि वे सांसद हैं. उन्‍होंने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी उनके नेता हैं. उन्‍होंने कहा कि पूरी कांग्रेस वही काम करती है, जो उचित होता है.

गलती से डला था अंबानी का नाम: रिलायंस 
रिलायंस ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'जनवरी, 2012 में एचएसबीसी ने मुकेश अंबानी का नाम गलत तरीके से डाले जाने के लिए माफी मांग ली थी. वह एक गलती थी.'

रिलायंस के प्रवक्‍ता ने कहा कि अगर एचएसबीसी ने यह मान लिया है कि यह बैंक की गलती थी, तो मुकेश अंबानी के स्विस बैंक में ब्‍लैक मनी होने का सवाल ही नहीं उठता है.

आधिकारिक पत्र नहीं है: केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने स्विस बैंक अकाउंट धारकों पर करार प्रहार किया. हालांकि केजरीवाल ने कहा, मेरे पास इस खुलासे का आधिकारिक पत्र नहीं है.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सरकार ने भारतीय लोकतंत्र को बेचा दिया है. केजरीवाल ने कहा कि स्रोत पर कर कटौती का नियम सिर्फ छोटी-मोटी सेलरी पर गुजारा करने वाली जनता के लिए है. उन्‍होंने कहा कि अमीर और ताकतवर लोगों के लिए तो हवाला ही बेहतर रास्‍ता है. केजरीवाल ने ट्विट किया, ‘इनकम पर टैक्स का कटना केवल कम सैलरी वालों के लिए लेकिन हवाला का जरिया शक्तिशाली और धनी लोगों के लिए.’
" "