" "

भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत समर्थक

Follow by Email

नई टीम अन्ना में सक्रिय हुए जनरल वीके सिंह


नई दिल्ली। हाल तक देश की सेना को संभालते रहे जनरल वीके सिंह अब अन्ना हजारे की फौज के सिपाही बन रहे हैं। इस लिहाज से उन्होंने सक्रिय भागीदारी भी शुरू कर दी है। मंगलवार को न सिर्फ दोनों की मुलाकात हुई, बल्कि जनरल सिंह ने अन्ना की नई टीम, इसके दफ्तर और रणनीति पर चर्चा भी शुरू कर दी। इस बीच, अन्ना मध्य प्रदेश में हिरासत में ली गई सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर की रिहाई को मांग को लेकर मध्य प्रदेश भवन के बाहर हुए प्रदर्शन में भी शामिल हुए। अरविंद केजरीवाल से अलग होने के बाद पहली बार वह किसी प्रदर्शन में दिखे। मध्य प्रदेश भवन के बाहर उन्होंने रिहाई की मांग के साथ कहा कि मेधा पाटकर को हिरासत में लिया जाना दर्शाता है कि लोकतंत्र की हत्या हो रही है।

अन्ना हजारे दुबारा अपनी राष्ट्रीय भूमिका के लिए सक्रिय हो रहे हैं। इस पारी में उन्हें जनरल वीके सिंह का साथ भी मिल गया है। जनरल न सिर्फ राष्ट्रीय राजधानी स्थित महाराष्ट्र सदन में उनसे मिलने पहुंचे, बल्कि अन्ना उनके साथ उन इलाकों में भी गए, जहां नए दफ्तर के लिए जगह देखी गई है। हालांकि दोनों में किसी ने भी इस मुलाकात के बारे में सार्वजनिक तौर पर कोई बात नहीं की। लेकिन टीम अन्ना के तौर पर सिंह की सक्रियता अब स्पष्ट है। इस बीच राजनीतिक पार्टी का एलान कर चुके केजरीवाल ने भी अन्ना से मुलाकात की। केजरीवाल का कहना है कि वह अन्ना की हमेशा से इज्जत करते रहे हैं और करते रहेंगे। वह अन्ना से उनका हाल-चाल पूछने आए थे। अन्ना हजारे ने एलान किया है कि जल्द ही वह जल्द ही राष्ट्रीय स्तर का एक ट्रस्ट बनाएंगे। उन्होंने गैर राजनीतिक आदोलन के समर्थक कार्यकर्ताओं से अपनी अलग बैठकें करनी भी शुरू कर दी हैं। इस दौरान पूर्व आईपीएस अफसर और उनकी पुरानी कोर टीम की सदस्य किरण बेदी भी लगातार उनके साथ रहीं। माना जा रहा है कि इसी हफ्ते अन्ना अपनी नई कोर टीम का एलान भी कर सकते हैं। इस दौरान वह कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ लगातार बैठकें करते रहेंगे।

" "